पंचतत्व में विलीन ‘नेताजी’! पत्नी की समाधि के बगल में किया गया अंतिम संस्कार

Mulayam Singh

इटावा । Mulayam Singh Yadav Funeral: उत्तर प्रदेश की राजनीति के दिग्गज सितारे और जनता के प्रिय ‘नेताजी’ मुलायम सिंह यादव आज पंचतत्व में विलीन हो गए। पूरे राजकीय सम्मान के साथ नेताजी को अंतिम विदाई दी गई। जब बेटे अखिलेश ने पिता को मुखाग्नि दी तो ‘नेताजी अमर रहे’ के जयकारों से पूरा वातावरण गूंज उठा। कई समर्थकों की आंखों से आंसुओं की धार भी बह निकली। पिता को मुखाग्नि देने से पहले बेटे अखिलेश ने सिर पर समाजवादी पार्टी (सपा) की लाल टोपी भी लगाई।

जहां भी नजर गई बस लोगों की भीड़ नजर आई
Mulayam Singh Yadav Funeral: यूपी के पूर्व दिग्गज सीएम रहे मुलायम सिंह यादव के अंतिम संस्कार में इतना जनसैलाब उमड़ पड़ा कि जहां भी नजर जाती केवल लोगों की भीड़ नजर आती। इस दौरान पुलिस को भी व्यवस्था बनाए रखने के लिए काफी जतन करना पड़ा। बड़े-बड़े राजनीतिक दिग्गजों से लेकर छोटे-छोटे समर्थक भी अपने प्रिय नेता को विदाई देने पहुंचे।

ये भी पढ़ें:- चाइल्ड एक्टर राहुल कोली का निधन, सिर्फ 10 साल की उम्र में बुझा मनोरंजन जगत का चमकता सितारा

पत्नी की समाधि के पास हुआ नेताजी का अंतिम संस्कार
जानकारी के अनुसार, मुलायम सिंह का अंतिम संस्कार जिस जगह किया गया वह यादव समाज का निजी मोक्षधाम है। इसी मोक्षधाम में मुलायम की पहली पत्नी मालती यादव का भी अंतिम संस्कार किया गया था जिसके बाद वहां उनकी समाधि बनाई गई। ऐसे में अब उनकी पत्नी के बगल में ही मुलायम सिंह का अंतिम संस्कार किया गया। अब यहां भी समाधि बनाई जाएगी।

ये भी पढ़ें:- नहीं हो पा रही थी कमाई, 2 महिलाओं की दे दी बलि…

कन्नौज से मंगवाई गई चंदन की लकड़ी
Mulayam Singh Yadav Funeral: नेताजी के शोक में आज पूरा इटावा बंद रहा। जिले के स्कूल, बाजार, दुकानें आदि व्यापारियों ने स्वेच्छा से बंद कर रखे। प्रिय नेताजी का अंतिम संस्कार पूरे राजकी सम्मान के साथ किया गया। उनके बेटे अखिलेश यादव और परिवार के सदस्यों ने अर्थी को कांधा दिया और पार्थिव शरीर को मोक्षधाम में कन्नौज से मगवाई गई चंदन की लकड़ी की चिता पर लेटाया गया। इसके बाद नम आंखों से भी ने उन्हें अंतिम विदाई दी। आपको बता दें कि, समाजवादी पार्टी के संस्थापक और उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम मुलायम सिंह यादव का 82 साल की उम्र में सोमवार को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में निधन हो गया था। जिसके बाद उनकी पार्थिव देह का आज उनके पैतृक गांव सैफई में अंतिम संस्कार किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Grey Observer