Unfortunate Queen: मिलिए दुनिया की सबसे ‘बदनसीब रानी’ से, बाप…भाई और नाना के साथ हुई हमबिस्तर…

18:23, 22 June, 2022, Views - 461
Most Unfortunate Queen
Image Source : India TV

Most Unfortunate Queen : दुनिया में ऐसे तो राज घरानों के कई किस्से और कहानियां प्रसिद्ध हैं. इनमें से कई पर तो फिल्में भी बन चुकी हैं और लोग इन्हें जानकर खासा रोमांचित महसूस करते हैं. ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं मिस्त्र के एक राजवंश की जहां हम वहां के पिरामिड्स के बारे में बात ना करते हुए आपको एक अलग कहानी बताने जा रहे हैं. मिस्र में एक रानी अनेकसेनामून हुईं जो जिन्हें इतिहास में दुनिया की सबसे बदनसीब रानी कहा जाता है. ये पूरा मामला कुछ ऐसा है कि जब आखानातेन नाम का राजा गद्दी पर बैठा तो उसके काम को लोग काफी नापसंद कर रहे थे. उसने अपनी जनता को किसी भी देवता की पूजा नहीं करने का फरमान जारी किया था. उसने लोगों से कहा कि लोग अब सिर्फ सूर्य की पूजा करेंगे.

Most Unfortunate Queen :
Symbolic Photo

Most Unfortunate Queen : राजा आखानातेन जितना अपने अजीबोगरीब फरमानों के लिए प्रसिद्ध था उतना ही अपने रंगीन मिजाज के लिए भी जाना जाता था. आखानातेन का नाम आज भी दुनियाभर में एक अ’य्याश राजा के तौर पर याद करते हैं. उस समय मिस्त्र के राजघरानों में सगे भाई बहनों की शादी करवाने का भी रिवाज था. ऐसा इसलिए हुआ करता था कि राजघराने में कोई बाहरी व्यक्ति दाखिल ना हो जाए. बताया जाता है कि इसी कारण सबसे पहले आखानातेन ने भी अपनी बहन ‘किया’ से शादी की थी. इस शादी से उसे तीन बेटियां और एक बेटा. आखानातेन की तीनों बेटियों में से सबसे सुंदर बेटी थी ‘अनेकसेनामून’ थी जिस पर उसके बाप की नजर पड़ी और कहा जाता है कि राजा आखानातेन ने अपनी पंद्रह-सोलह साल की बेटी अनेकसेनामून का शारीरिक शोषण किया था. 45 वर्ष की अवस्था में इस क्रूर, अ’य्याश राजा का निधन हो गया.

Most Unfortunate Queen : आखानातेन की मौत के बाद उसके 9 वर्षीय बेटे तूतनखामन को गद्दी पर बिठा दिया गया. बताया जाता है कि तूतनखामन बेहद कमजोर और अक्सर बीमार ही रहा करता था. इसके बाद भी उसे गद्दी पर बिठाया गया और जल्दी ही उसकी शादी उसकी सगी बहन 17 साल की अनेकसेनामून के कर दी गई. दोनों की शादी तो हो गई लेकिन तूतनखामन किसी भी तरह से अनेकसेनामून के लिए लायक नहीं था. उसके जनता को ज्यादा परेशान नहीं किया लेकिन गद्दी पर बैठने के बाद वो और भी ज्यादा बीमार रहने लगा. अनेकसेनामून, तूतनखामेन के साथ बिल्कुल भी खुश नहीं थी. उनकी दो संताने हुई और दोनों ही मरी हुई पैदा हुई. बीमारी के कारण 18 वर्ष की अवस्था में तूतनखामन की भी मौत हो गई.

Must Read : ‘बिग बॉस’ और ‘झलक दिखला जा’ में नजर आएंगी जन्नत जुबैर? दिया ये जबाव

Most Unfortunate Queen :
Symbolic Photo

Most Unfortunate Queen : एक बार फिर से राजा की मृत्यु होने के बाद ही साम्राज्य पर अधेड़ उम्र के ‘आईया’ को बैठा दिया गया. आईया को राजगद्दी से ज्यादा जिसमें रुचि थी वह थी अनेकसेनामून. आईया अनेकसेनामून का रिश्ते में सगा नाना लगता था. वह अपने ही सगी बेटी की बेटी से ही शादी करना चाहता था. अपनी जिंदगी से परेशान रानी अनेकसेनामून यह नहीं होना देना चाहती थी. इसलिए उसने अपने पड़ोसी शक्तिशाली हत्थी साम्राज्य के राजा को पत्र लिखा. जिसमें उसने कहा कि यदि साम्राज्य के राजा मिस्र के साम्राज्य की रक्षा करते हैं तो वह उनके बड़े बेटे से शादी करने को तैयार है. हत्थी के राजा ने वह प्रस्ताव स्वीकार किया.

Most Unfortunate Queen :
Symbolic Photo

Most Unfortunate Queen : इस बात की खबर आईया को मिल गई और उसने बीच रास्ते में ही उस राजकुमार को मार दिया. इसके बाद आईया ने रातों-रात मिस्त्र के शक्तिशाली साम्राज्य पर हमला कर दिया और जोर ज’बरदस्ती पूर्वक अनेकसेनामून से शादी कर ली. इसके बाद जिंदगी के कुछ वर्ष बिताने के बाद ही रानी अनेकसेनामून की मृत्यु हो गई. जिस वक्त उसकी मृत्यु हुई वह महज 25 साल की थी‌ और इतनी कम अवस्था में उसने जिंदगी में वह उतार-चढ़ाव देखे जो शायद इतिहास में आज तक किसी ने नहीं देखे होंगे. खास बात यह भी है कि रानी की मृत्यु की वजह क्या थी यह भी कोई नहीं जानता.

Must Read : नुसरत भरूचा ने लगाई ग्लैमरस तस्वीरें, लिखा- आंखों से बताऊंगी, तुम समझ.

Leave a comment

Your email address will not be published.

17 + 11 =